गैरसैंण राजधानी बनाये जाने के आंदोलन को किशोर उपाध्याय का साथियों संग समर्थन

0
9

देहरादून। गैरसैंण राजधानी निर्माण अभियान का धरना को आज 148वाँ दिन में प्रवेश कर गया। इस अवसर पर आज काँग्रेस के पूर्व अध्यक्ष किशोर उपाध्याय बड़ी संख्या में साथियों संग गैरसैंण आंदोलन को समर्थन देने संघर्ष स्थल पर पहुंचे और उन्होंने गैरसैंण को स्थाई राजधानी बनाये जाने की वकालत की।
इस अवसर पर उन्होंने अपनी पूर्व की हिचकिचाहट को दूर फेंकते हुए गैरसैंण आंदोलन को पूर्ण समर्थन देने की बात मंच पर कही। हाल ही में जिस प्रकार से किशोर उपाध्याय की भाजपा से राज्य सभा सांसद अनिल बलूनी से वार्ता चर्चाओं के बाजार में गर्म है, उसको देखते हुए आज यकायक गैरसैंण राजधानी निर्माण अभियान के मंच पर पहुंचकर जिस प्रकार से किशोर उपाध्याय ने गैरसैंण राजधानी आंदोलन को समर्थन व्यक्त किया है, वह चौंकाने वाला भी है परंतु स्वागत योग्य है। वैसे बताते चलें कि किशोर उपाध्याय पूर्व में भी राजधानी गैरसैंण आंदोलन को समर्थन देने आए हैं, परंतु आज जिस आत्मविश्वास से वह राजधानी गैरसैंण के पक्ष में आए वह गैरसैंण अभियानकर्मियों के लिए भी काफी उत्साहवर्धक रहा।
इस अवसर पर गैरसैंण अभियान से जुड़े राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि यह भी संभव है कि जिस प्रकार से काँग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गाँधी ने सभी काँग्रेसियों को आक्रामक मुद्रा में आने को कहा है उसके दृष्टिगत भी आज गैरसैंण मंच पर किशोर उपाध्याय का आगमन सधी हुई रणनीति का हिस्सा हो। बहरहाल गैरसैंण राजधानी निर्माण अभियान ने कशोर उपाध्याय के आगमन की भूरी भूरी प्रशंसा करते हुए कहा है कि राज्य के अन्य राजनेताओं को भी किशोर उपाध्याय के समान ही अनुकरण करते हुए खुलकर राजधानी गैरसैंण के समर्थन में उतरना चाहिए।
इस अवसर पर आज गैरसैंण के पक्ष में धरना और समर्थन देने वालों में किशोर उपाध्याय, मदन सिंह भंडारी, बॉबी पंवार, पारुल, मनोज ध्यानी, विजय सिंह रावत, मनोज कुमार बडोला, संजय भटट, कमल काँत, मनोज कुमार बडोला, जबर सिंह पावेल, दीपक नेगी, सुबोध लखेडा, नरेन्द्र राणा, सोहन सिंह रावत’ आदि मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY