अवैध खनन पर ‘महासंग्राम’

0
41

आरोपः सरकार के बडे नेता के भाई का खनन पट्टा होने पर प्रशासन खामोश
अब नेत्री के आन्दोलन में उतर आये पूर्व मंत्री
कोटद्वार। अवैध खनन के खिलाफ कांग्रेस की एक नेत्री ने प्रशासन व पुलिस महकमें को ललकार कर अवैध लोडिंग के खिलाफ कार्यवाही करने का पाठ पढाया और साफ कहा कि वह झुग्गी-झोपडी से नहीं आई बल्कि वह कांग्रेस की एक छोटी कार्यकर्ता है और वह किसी भी कीमत पर अपने कोटद्वार शहर को डूबने नहीं देंगी। प्रशासन महिला नेत्री को समझाता रहा कि ओवर लोडिंग के खिलाफ कार्यवाही की जा रही है और प्रशासन ने धर्मकांटा व सीसीटीवी कैमरे भी लगा रखे हैं लेकिन महिला नेत्री का साफ आरोप था कि सरकार के एक बडे नेता के भाई का खनन पट्टा होने के कारण प्रशासन ओवर लोडिंग पर कोई कार्यवाही नहीं करना चाहता। महिला नेत्री के आन्दोलन में एकाएक कांग्रेसी नेताओं का जमावडा लगना शुरू हो गया है और डबल इंजन की सरकार पर अवैध खनन को लेकर कांग्रेस ने एक तरह से महासंग्राम लडने का बिगुल बजा दिया है। वहीं आज महिला नेत्री के आन्दोलन में कांग्रेस के पूर्व मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी भी समर्थकों के साथ आगे आ गये और अवैध खनन व ओवर लोडिंग को लेकर वह भी सख्त रूख अपनाये हुए हैं। महिला नेत्री का यह आन्दोलन देखकर खनन करने वाले कुछ ट्रकों को भी गांववासियों द्वारा खाली खदेडने की चर्चाएं उफान पर हैं। फिलहाल प्रशासन के लिए अवैध खनन के खिलाफ आमरण अनशन पर बैठी महिला नेत्री ने उनके लिए सिरदर्द बनी हुई है।
रिवर ट्रेनिंग नीति 2016 के नाम पर गलत तरीके से हो रहे खनन के विरोध में आमरण अनशन पर बैठी कांग्रेस प्रदेश सचिव कृष्णा बहुगुणा को जहा तीन दिन से अपनी ही पार्टी के लोग समर्थन देने नही पहुच रहे थे वही क्राइम स्टोरी में कल प्रकाशित हुई खबर के बाद आज सुबह से ही अनशन स्थल पर कांग्रेसियों की भीड़ लगी रही। यही नही खुद पूर्व स्वास्थ्य मंत्री सुरेंद्र सिंह नेगी भी मौके पर कृष्णा का हाल जानने पहुचे, जहा कांग्रेस जिलाध्यक्ष के सामने ही कृष्णा ने जिलाध्यक्ष सहित पार्टी के कई कार्यकर्ताओ की शिकायत सुरेंद्र सिंह नेगी से करी, की ये सभी मेरा साथ नही दे रहे है जिससे जनता के बीच अच्छा संदेश नही जा रहा है और साशन प्रसाशन भी इसका फायदा उठाकर मुझे जबरन उठाना चाहता है। इस बात पर पूर्व मंत्री नेगी ने नाराजगी जताई साथ ही प्रशासनिक अधिकारियों से फोन पर वार्ता करी की खनन की ओवरलोडिंग व सूर्यास्त के बाद खनन तुरन्त बन्द करवा दे और ऐसा नही कर सकते तो हमे लिखकर दे दें। वही लालपानी व स्नेह के ग्रामीणों ने भी खनन सामग्री लेने आये ट्रकों पर पत्थरबाजी करी और कहा कि इनकी वजह से हमे परेशानियों का सामना करना पड़ा। सुरेंद्र सिंह नेगी के आने से कुछ समय पहले ही स्वास्थ्य विभाग की टीम कृष्णा का स्वस्थ्य परीक्षण करने पहुची, जिन्होंने बताया कि अनशन पर बैठने से कृष्णा का चार किलो वजन कम हो गया है। इसके साथ ही पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने भी कृष्णा से फोन पर वार्ता करके कहा कि कल वे स्वयं कोटद्वार पहुचेंगे।

LEAVE A REPLY