अन्तर्राज्जीय वाहन चोर गैंग दबोचा

0
16

चोरी की गाडियां-अवैध असला बरामद
एसपी सिटी के नेतृत्व में पुलिस टीम को मिली कामयाबी
हेमन्त गुप्ता
सहारनपुर। जनपद के एसएसपी ने दुपहिया वाहनों की बढती चोरी की वारदातों को देखते हुए नाराजगी प्रकट करते हुए एसपी सिटी को वाहन चोर गैंग की तलाश में लगाया। एसपी सिटी ने चोरी की वारदातों का खुलासा करने के लिए सदर थाना पुलिस को मैदान में उतारा और मुखबिरों का जाल बिछाकर गैंग की तलाश में जुट गये। एसपी सिटी के नेतृत्व में पुलिस टीम ने अन्तर्राज्जीय वाहन चोर गैंग के छह सदस्यों को दबोचकर उनके कब्जे से नौ स्कूटी व मोटरसाइकिलें बरामद की तथा गैंग के कब्जे से तमंचा व चाकू बरामद किया। गैंग ने खुलासा किया कि वह चोरी के वाहन को बेचने के लिए ग्राहक की तलाश में जुटा हुआ था कि पुलिस ने उन्हें पकड लिया। गैंग को पकडने वाली पुलिस टीम को एसएसपी ने पांच हजार का ईनाम देने की घोषणा की है।
आज एसएसपी बबलू कुमार ने मीडिया से रूबरू होते हुए बताया कि शहर में वाहन चोरी की घटनाओं को रोकने के लिए एसपी सिटी प्रबल प्रताप सिंह को आदेश दिये थे। एसएसपी ने बताया कि चार अप्रैल की रात्रि लगभग नौ बजे वसंत विहार कालोनी निवासी कौशलेंदर की घर के सामने से स्कूटी चोरी हो गई थी व पन्द्रह अप्रैल को सुबह ग्यारह बजे प्रताप पुरम जनकपुरी निवासी हरजिन्दर पाल की स्कूटी घंटाघर से चोरी हो गई थी जिसके खुलासे के लिए एसपी सिटी के नेतृत्व में सदर बाजार व कोतवाली पुलिस ने मुखबिरों का जाल बिछाकर वाहन चोर गैंग की तलाश शुरू की। एसएसपी ने बताया कि आज सदर थाना पुलिस ने चैकिंग के दौरान बैंक ऑफ बडोदा पेपर मिल रोड के सामने से सदर बाजार निवासी अजय, रामनगर निवासी गुरूदेश, बिट्टू लेबर कालोनी निवासी, अवनीश उर्फ रिंकू , नकुड निवासी रवि व काशीराम कालोनी निवासी नीटू उर्फ भजनलाल को सहारनपुर से चोरी की गई छह स्कूटी, तीन मोटरसाइकिल, तीन सौ पन्द्रह बोर के तमंचे दो कारतूस व दो चाकू के साथ गिरफ्तार किया। एसएसपी ने बताया कि गैंग ने पूछताछ के बाद खुलासा किया कि वे सब मिलकर दुपहिया वाहन स्कूटी चोरी करते हैं तथा चोरी किये गये वाहनों की नम्बर प्लेट को बदलकर अलग-अलग स्थानों पर ले जाकर सस्ते दामों में बेच देते हैं। गैंग ने खुलासा किया कि दस पन्द्रह दिन पहले उन्होने वसंत विहार व घंटाघर से स्कूटी चोरी की थी। बबलू कुमार ने बताया कि अन्तर्राज्जीय गैंग शातिर किस्म का है और उन्होंने जनपद के सदर बाजार, मंडी व कोतवाली इलाके से वाहन चोरी की घटनाओ को अंजाम देना स्वीकारा है उन्होंने कहा कि इस गैंग के सदस्यों का आपराधिक इतिहास खंगाला जा रहा है और गैंग पर गैंगेस्टर की कार्यवाही भी की जायेगी। गैंग को पकडने वाली टीम में सदर बाजार के थाने के दरोगा ज्ञानेन्दर सिंह, सुरेन्द्र सिंह, रेशम पाल, प्रदीप कुमार यादव व पुलिसकर्मी अवनीश, अजीत व मोनू शामिल थे। एसएसपी ने गैंग को पकडने वाली पुलिस टीम को पांच हजार का ईनाम देने की घोषणा की। पत्रकार वार्ता में एसपी सिटी प्रबल प्रताप सिंह भी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY