स्वर्गाश्रम इलाके में तीन लावारिस शवों से मचा भूचाल

0
26

जांच मे जुटी, आत्महत्या की आशंका
तमाम प्रयासों के बावजूद मृतकों की शिनाख्त की नही हो पाई शिनाख्त
लक्ष्मणझूला पुलिस विभिन्न कोणों से कर रही है मामले की जांच
ऋषिकेश। शुक्रवार की सुबह स्वर्गाश्रम गीता भवन घाट नम्बर-1 पर तीन शव मिलने से क्षेत्र मे सनसनी फैल गई। पुलिस ने शवो का पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।प्रारम्भिक जांच मे पुलिस मामले को आत्महत्या से जोड़कर मान रही है।
देश और दुनिया मे योग और आध्यात्म के क्षेत्र मे अपनी खास पहचान रखने वाले स्वर्ग आश्रम क्षेत्र मे आज सुबह एक बच्चे सहित तीन लोगों के शव मिलने से हड़कंप मच गया। सूचना पर मौके पर पहुंची लक्ष्मणझूला पुलिस ने दो युवक सहित एक दस वर्षीय बच्चे का शव गंगा घाट से बरामद किया। लक्ष्मणझूला पुलिस के अनुसार तीनो युवकों की शिनाख्त नहीं हो पाई है। पुलिस का मानना है कि तीनो ने विषाक्त का सेवन किया है। वही पुलिस ने बताया कि मृतको के पास से वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड का टिकट मिला है। पुलिस को घटनास्थल से कोल्डड्रिंक की बोतल व कुछ गिलास मिले हैं लेकिन उनमे विषाक्त की पुष्टि नही हो पाई है। एक युवक की कमीज पर आगरा का टैग मिला है जिससे मृतक बाहरी बताए जा रहे हैं।
थाना लक्ष्मण झूला के स्वर्ग आश्रम क्षेत्र में शुक्रवार की सुबह गंगा घाट पर एक साथ तीन शव मिलने से सनसनी फैल गई। तीनों ही शव पक्के घाट पर मिले हैं  जिन के संबंध में आशंका जताई जा रही है कि तीनों ने विषाक्त का सेवन किया है। पुलिस के अनुसार शुक्रवार की सुबह करीब 8ः00 बजे स्वर्ग आश्रम के गीता भवन नंबर एक घाट के फर्श पर एक बुजुर्ग ,एक जवान और एक बालक का शव एक साथ पड़ा मिला। बताया जा रहा है कि मृतक वैष्णो देवी की यात्रा कर ऋषिकेश पहुंचे थे। स्थानीय लोगों द्वारा लक्ष्मण झूला पुलिस को  घटना की सूचना दी गई थी। सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष प्रदीप कुमार राणा मय फोर्स मौके पर पहुंचे। पुलिस ने मौके पर मृत पड़े साठ वर्षीय बुजुर्ग, 35 वर्षीय युवक और एक 12 वर्षीय बालक के शव की तलाशी ली, सामान भी चेक किया गया। मगर तीनों के ही पास से कोई आईडी ऐसे नहीं मिली जिससे उनकी शिनाख्त हो पाती। पुलिस के मुताबिक प्रथम दृष्टया तीनो ही एक ही परिवार के मालूम पड़ते हैं। आशंका जताई जा रही है की तीनों ने विषाक्त खाकर आत्महत्या की है। हांलाकि पुलिस तमाम एंगलों से  जुड़े हर पहलू की जांच कर रही है। शवों की शिनाख्त के लिए पुलिस द्वारा आसपास के आश्रम और धर्मशाला में रुकने वाले लोगों से भी शवों की पहचान कराई गई मगर उनकी शिनाख्त को लेकर पुलिस को कोई सफलता नही मिली।मृतक युवक की शर्ट में मिले आगरा के टेलर का टैग निशानी के आधार पर मिला है  जिसके आधार पर लक्ष्मण झूला पुलिस ने आगरा पुलिस से भी संपर्क साधा है। थानाध्यक्ष लक्ष्मण झूला प्रदीप कुमार राणा ने बताया कि मृतकों में 60 वर्ष ,दूसरा 32 और तीसरा 12 वर्ष का है। तीनों के पास से कुल मिलाकर दस हजार पैतालिस रूपए मिले हैं ,जिसे देख कर जहर खुरानी या लूट कि कोई आशंका नहीं रह गई है ।पुलिस का मानना है कि तीनों ही लोगों ने आत्महत्या की है । बकौल थानाध्यक्ष प्रदीप राणा के अनुसार ,विषाक्त का पता और मौत का समय जानने के लिए पुलिस मृतकों का  विसरा जांच कराया जायेगा। मृतकों के पास से न तो कोई पहचान पत्र मिला है और न ही उनके पास कोई मोबाइल था। मृतक की एक कमीज पर दर्जी का जो टेग मिला है उस पर आगरा लिखा हुआ है जिसको लेकर पुलिस अपनी जांच आगे बडा रही है अभी यह भी पता नहीं चल पाया कि तीनों मृतक एक ही परिवार के हैं या अलग-अलग।

LEAVE A REPLY