अपराधियों- खनन माफियाओं में मणि का ‘डर’

0
48

अपराध करने का साहस नहीं जुटा पा रहे बदमाश
रूड़की। धर्मनगरी के रूडकी इलाके में अकसर सरकार व पुलिस मुख्यालय के सामने शिकायतों का पिटारा खुलता था कि वहां अवैध खनन माफिया के साथ-साथ अपराधियों का खुला तांडव चलता है जिस पर नकेल लगाने में पुलिस नाकाम रहती है लेकिन जबसे एसपी देहात की कमान मणिकांत मिश्रा के हाथों में आई है तबसे उत्तराखण्ड के अन्दर बडी दहशत फैलाने वाला कुख्यात सुनील राठी तक डर के साये में जी रहा है और इलाके में अपराध करने का दुसाहस करने वाले अपराधियों के साथ जिस तरह से पुलिस की मुठभेड में बदमाशों को गोलियां लगी उससे अपराधियों के अन्दर मणि का बडा डर देखने को मिल रहा है तथा देहात क्षेत्र में किसी खनन माफिया में इतना साहस नहीं कि वह नदियों से अवैध खनन करने के लिए अपने कदम आगे बढा सके। एसपी देहात ने जिस तरह से अपराधियों व खनन माफियाओं की नाक में नकेल डाली है उससे यह बात साफ हो गई है कि अगर पुलिस अफसर में दृढ़ इच्छा हो तो अपराधी व माफिया कभी भी सिर नहीं उठा सकते।
उल्लेखनीय है कि जबसे मणिकांत मिश्रा की एसपी देहात के रूप में तैनाती हुई है उन्होंने अपने इलाके पथरी, लकसर व भगवानपुर में खनन माफियाओं के मन में पुलिस का इतना बडा डर पैदा कर दिया है कि वह नदियों में अवैध खनन करने का तिनकाभर भी साहस नहीं कर पा रहे हैं और वह दबी जुबान में यही कह रहे हैं कि उन्होंने जो गाडियां खरीदी हुई थी उसकी किस्त तक भी वह नहीं चुका पा रहे हैं। मणि के डर से जिस तरह से खनन माफिया भूमिगत हो गये हैं उससे यही संकेत मिल रहे हैं कि अगर अफसर चाहे तो नदियों से कोई माफिया एक तिनकाभर भी अवैध खनन नहीं कर पायेगा। उधर मणिकांत मिश्रा ने अपने देहात क्षेत्र में अपराधियों के नेटवर्क को पूरी तरह से कूचल रखा है और वह बडे से बडे अपराधियों के नाक में नकेल डाल चुके हैं इसका प्रत्यक्ष प्रमाण उस समय देखने को मिला था जब उत्तराखण्ड में उद्यमी व व्यापारियों में डर पैदा करने वाले कुख्यात सुनील राठी की मां को खुद एसपी देहात बागपत में उसके किलेबंद मकान से गिरफ्तार करके जेल तक लाये थे। सुनील राठी पर नकेल लगाने वाले मणि ने उन बदमाशों केा भी अपना इकबाल दिखाया जो इलाके में लूट या कोई वारदात करके फरार हुये तो एसपी देहात ने पुलिस टीमों के साथ चंद घंटों में ही उनकी घेराबंदी कर उन्हें सलाखांे के पीछे पहुंचाया और जबसे पुलिस व बदमाशों के बीच हुई मुठभेड में कुछ बदमाशों के पैरों में गोली लगी उससेेेेेेेेेेेेेेेेेेेेेेेेेेेेेेेेेे अपराध करने वाले बडे-बडे अपराधी मणि के नाम से कांपने लगे और आज देहात इलाका एक तरह से अपराध व अवैध खनन मुक्त दिखाई दे रहा है।

LEAVE A REPLY