सरकार की वायदा खिलाफी से भूचाल

0
57

देहरादून। ट्रांसपोर्टर प्रकाश पांडे की मौत के बाद उसके परिजनों को सरकारी मुआवजा व नौकरी दिये जाने के वायदे से पलटने पर राज्य की सियासत में भूचाल आ गया है जहां कांग्रेस नेता सरकार को कटघरे में खडा कर रहे हैं वहीं भाजपा युवा मोर्चा के एक पदाधिकारी ने भी सरकार की वायदा खिलाफी से नाराज होकर अपने पद से इस्तीफा दे दिया और यहां तक आरोप लगा दिया कि सरकार ने अपने वायदे से मुकर कर जनता के साथ धोखा किया है।
तो बवाल हो जायेगा: हृदयेश
सरकार ने अगर प्रकाश पांडे के परिजनों को मुआवजा व नौकरी नहीं दी और वायदा खिलाफी की तो भूचाल आ जायेगा। यह बात कांग्रेस नेता प्रतिपक्ष इन्दिरा हृदयेश ने कही। उन्होंने कहा कि सरकार की विश्वसनीयता समाप्त नहंी होनी चाहिए क्योंकि यह सरकार की विश्वसनीयता का सवाल है क्योंकि नैनीताल डीएम ने एक हजार लोगों के सामने घोषणा की थी कि मृतक के परिजनों को बारह लाख व परिवार के सदस्य को नौकरी दी जायेगी अगर सरकार ने वायदाखिलाफी की तो बहुत बडा बवाल हो जायेगा। उन्होंने कहा कि आज ही भाजपा विधायक वंशीधर भगत ने कहा है कि उन्होंने मुख्यमंत्री से बात करने के बाद मुआवजे की घोषणा की थी।

यह कैसे सीएम: प्रीतम
कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष का कहना है कि वह स्पष्ट करना चाहते हैं कि किसी भी जनपद का डीएम सरकार का प्रतिनिधित्व करता है और उन्होंने सार्वजनिक रूप से प्रकाश पांडे के परिवार को बारह लाख रूपये का मुआवजा उनकी पत्नी को सरकारी नौकरी देने का ऐलान किया था लेकिन मुख्यमंत्री ने इस वायदे को वीड्रा कर लिया जो कि सरकार की असंवेदनशीलता को दर्शाता है और उससे साफ होता है कि सरकार के पास कोई विजन नहीं है। उन्होंने कहा कि अब तो मुख्यमंत्री के विरोध में भाजपा के विधायक भी आ रहे हैं और भाजपा विधायक बंशीधर भगत ने भी मुख्यमंत्री को वायदा निभाने के लिए पत्र लिखा है लेकिन सरकार बैकफुट पर आ रही है और विधायक विरोध कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह कैसे सीएम हैं जो पहले कुछ कहते हैं और फिर वायदों से मुकर जाते हैं। उन्होंने कहा कि जिस प्रकाश पांडे की मौत से पूरा देश हिल गया लेकिन उत्तराखण्ड के सीएम नहीं हिले। उन्होंने कहा कि कांग्रेस हमेशा जीएसटी व नोटबंदी को लेकर अपनी जंग जारी रखेगी।

सरकार ने जनता से किया धोखाः शुभम
प्रकाश पांडे की मौत पर राज्य में भूचाल मचा हुआ है अब कांग्रेस के बाद भाजपा के चंद विधायक व कुछ पदाधिकारियों ने विरोध की मशाल उठा ली है इसी के चलते भारतीय जनता युवा मोर्चा रामनगर नैनीताल मंडल के महामंत्री ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया और कहा कि राज्य सरकार द्वारा आम जनता को इस तरह से गुमराह करना बहुत दुखदायक है। उन्होंने कहा कि प्रकाश पांडे की मौत के बाद राज्य सरकार द्वारा पहले पीडित परिवार को मुआवजा देने की बात कही गई परंतु पीडित परिवार को भाजपा नेताओं द्वारा उत्पीडित समान बयानबाजी दी गई वर्तमान में मुख्यमंत्री द्वारा मुआवजा देने की बात को भी खारिज किया गया जिससे वह बहुत दुखी है। शुभम ने कहा कि युवाओं को रोजगार देने की बात भी मात्र एक जुमला है बेरोजगारी भत्ता तक युवाओं को नहीं मिल पा रहा राज्य सरकार द्वारा आम जनता व युवा विरोधी नीतियों का वह व उसके समर्थक युवा पूर्णरूप से विरोध करते हैं और वह अपने पद से इस्तीफा दे रहे हैं।

LEAVE A REPLY