मणिकांत ने इलाके में बदमाशों की करी ‘नो-एंट्री’

0
31

खूनी तांडव करने वाले सलाखों के पीछे
रुड़की/मंगलौर। दिल्ली-रुड़की हाइवे पर दो दिन पूर्व रात्रि में न्यू लक पंजाबी ढाबे पर कुछ लोगों द्वारा ढाबे और कृष्णा प्रॉपर्टीज के ऑफिस पर तोड़फोड़ कर एक व्यक्ति को लहुलुहान कर फरार होने के मामले में मंगलौर पुलिस ने 4 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया है। बाकी की गिरफ्तारी के प्रयास अभी जारी है।
बता दे कि दो दिन पूर्व रात्रि में दिल्ली रुड़की हाइवे पर न्यू लक पंजाबी ढाबा और कृष्णा प्रॉपर्टीज के ऑफिस पर कुछ लोगो द्वारा तोड़फोड़ कर एक व्यक्ति को लहूलुहान कर दिया गया था। जब पुलिस मौके पर पहुंची तो उसकी मौत हो चुकी थी। ढाबे के मालिक ईस्कार की तहरीर पुलिस ने 10 से 11 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया। मामले के जल्द खुलासे को एसपी देहात मणिकांत मिश्रा और एसपी क्राइम मंजुनाथ टीसी ने अपने निर्देशन में एक टीम का गठन किया। टीम ने 10 लोगो को चिन्हित किया जिसमें अनिल त्यागी उर्फ बबलू त्यागी पुत्र चंद्रप्रकाश, सचिन पुत्र अनिल त्यागी, मोनू पुत्र मनमोहन, सोनू पुत्र मनमोहन, रजत पुत्र संजय उर्फ संजू, भूषण त्यागी पुत्र महेंद्र, आर्यन त्यागी पुत्र पप्पू उर्फ सुरेंद्र त्यागी, रजत पुत्र देवेन्द्र, कन्हैया पुत्र सुन्दर गोस्वामी, परदेशी मोहली पुत्र लक्ष्मण मोहली निवासी तांशीपुर कोतवाली मंगलौर हरिद्वार ने घटना को अंजाम दिया है। जब पुलिस टीम ने इनकी गिरफ्तारी के प्रयास किये तो इनमें से 4 अभियुक्त अनिल त्यागी उर्फ बबलू त्यागी पुत्र चंद्रप्रकाश, मोनू पुत्र मनमोहन, भूषण त्यागी पुत्र महेंद्र त्यागी निवासी तांशीपुर मंगलौर, परदेशी मोहली पुत्र लक्ष्मण मोहली निवासी ग्राम राकुडी थाना सरियाहाट जिला दुमका झारखंड को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ने इनके पास से घटना में प्रयुक्त 4 डंडे और 2 स्कार्पियो कार भी बरामद कर ली है। शेष 6 अभियुक्तों की गिरफ्तारी के प्रयास जारी हैं। पुलिस टीम में एसएसआई अजय जाटव, उपनिरीक्षक चित्रगुप्त, अशोक कुमार, प्रेमप्रकाश शाह, मनोज कुमार, अंशु चौधरी, सीआईयू से हेड कांस्टेबल देवेन्द्र भारती, कांस्टेबल अशोक, कांस्टेबल मनोज सिंह, अजय कुमार, मनोज डोभाल, राकेश कैंतुरा, सतीश भट्ट, सोहन मेहरा, रजत, बलदेव, सबल चन्द, रामवीर और चालक लाल सिंह शामिल रहे।

LEAVE A REPLY