नववर्ष पर हुडदंगी होंगे रडार पर

0
7

डीआईजी ने कप्तानों को दिये ऑडर
देहरादून। नर्व वर्ष की पूर्व संध्या पर वर्ष 2017 के समापन के अवसर पर होटलो रेस्तराओ, ढाबो एवं विभिन्न स्थानो पर नववर्ष के स्वागत सम्बन्धी विभिन्न कार्यक्रम व अतिशबाजी का आयोजन विगत वर्षो की भांति इस वर्ष भी किया जाना सम्भावित है। इस अवसर पर युवको द्वारा डिस्को/बार/ढाबो पर शराब का अत्याधिक सेवन करने के पश्चात रात्रि में सडक पर तेज गति से वाहन चलाने के कारण मारपीट,छेडखानी व सडक दुर्घटनाओ के बढने की घटनाये घटित होने की सम्भावना रहती है। जिस कारण ऐसी घटनाओ को रोकने,शान्ति,कानून व्यवस्था बनाये रखने हेतु पुलिस प्रबन्ध किया जाना आवश्यक है। यह आदेश पुलिस उपमहानिरीक्षक गढवाल परिक्षेत्र द्वारा रेन्ज के समस्त समस्त वरिष्ठ/पुलिस अधीक्षक को निर्देश दिये गये हैं।
डीआईजी गढवाल पुष्पक ज्योति ने कप्तानों को लिखे खत में कहा है कि खासकर युवा वर्ग द्वारा शराब पीकर सडकों पर हुंडदग व स्टंट बाइकर द्वारा स्टंट की जाती है, इस दौरान प्रत्येक थाना क्षेत्रों के मुख्य-मुख्य स्थानों पर समुचित पुलिस बल तैनात करने के साथ ही तत्काल सम्बन्धित के खिलाफ कार्रवाही करने के निर्देश दिये गये। रेंज के जनपद देहरादून में घंटाघर, विकासनगर, प्रेमनगर, मसूरी, धनौटी, ऋषिकेश, जनपद पौडी में कोटद्वार, श्रीनगर, लक्ष्मणझूला, पौडी जनपद टिहरी में कीर्तिनगर, देवप्रयाग, नरेद्रनगर, चम्बा जनपद-हरिद्वार में हर की पैडी, लक्सर, रुडकी जनपद चमौली में गोपेश्वर, कर्णप्रयाग आदि स्थानों पर शान्ति/कानून व्यवस्था तथा साम्प्रदायिक सौहार्द को प्रभावित करने का प्रयास कर सकते है, समय से समुचित पुलिस व्यवस्था नियुक्ति कर सम्बन्धित क्षेत्राधिकारियों द्वारा ब्रीफ्र करने के निर्देश दिये गये।
पुलिस उपमहानिरीक्षक द्वारा बताया गया कि पूर्व में ऐसे प्रकरण सामने आये है कि पर्वतीय जनपदों में नवयुवक एवं अन्य व्यक्ति नववर्ष की पूर्व सन्ध्या पर पिकनिक के रूप में जंगलों एवम् वन-विभाग के डाक बगंलों/गेस्ट हाऊस/दर्शनीय स्थलों पर चले जाते हैं तथा वहां पर शराब आदि का सेवन करने के साथ ही जंगली जानवारों का शिकार कर वाहनों से वापस लौटते हैं, ऐसे में पर्वतीय मार्गो पर वाहन दुर्घटनाओं की अधिक सम्भावना बनी रहती है। अतः पर्वतीय क्षेत्रों में ऐसे स्थानो को चिन्हित कर वन-विभाग से समन्वय कायम कर समय से सयुंक्त टीम गठित कर ऐसे स्थानों में तैनात कर दी जाये ताकि इन स्थानों में आने वाले व्यक्तियों चैकिंग करने के निर्देश दिये गये। साथ ही सभी जनपद प्रभारियों को निर्देश दिये गये कि सभी होटलों/ढाबों/धर्मशालओं/सिनेमाघरों/बाजारों के साथ ही महत्वपूर्ण स्थानों में फायर सर्विस कर्मियों की समय से तैनाती करने के निर्देश दिये गये।
उपरोक्त अवसर पर भीड़ भरे स्थानों/क्षेत्रों व जिन स्थानों पर अधिक संख्या में जन समूह एकत्रित होगा उन स्थानों पर आंतकवादी/आईएसआई, समर्थित संगठनों/व्यक्तियों द्वारा कोई घटना किसी भी दशा में न की जा सके। इस हेतु कड़ी सतर्कता, विशेष निगरानी, चैकिंग, एण्टी सबोटांज चैकिंग आदि की कार्यवाही समय से कराने के साथ ही अभी से क्षेत्र में स्थित महत्वपूर्ण संस्थानों/प्रमुख धार्मिक स्थलों/बाजारों/महत्वपूर्ण पुलों/रेलवे/बस स्टेशनों/हवाई अड्डो/होटलो/धर्मशालाओं/सरायों/सिनेमाघरों एवं भीड-भाड़ वाले स्थानों पर सख्त निगरानी रखते हुये दोपहिया वाहनों पर कड़ी दृष्टि रखी जायें व अभी से समय-समय पर इनकी कड़ाई से चैकिंग सुनिश्चित कराई जायें। संवेदनशील स्थानों को चिन्हित कर उन स्थानों पर सादे वस्त्रों में निगरानी रखने हेतु नववर्ष की पूर्व संध्या से ही अभिसूचना स्टांफ एवं नागरिक पुलिस को नियुक्त कर दिया जाये। साथ ही मुझे आशा ही नहीं अपितु पूर्ण विश्वास है कि आप नववर्ष आगमन की पूर्व सन्ध्या के अवसर पर अपने अनुभवों, कुशल मार्ग दर्शन/नेतृत्व एवं सुदृढ़ पर्यवेक्षण में उपरोक्तानुसार अपने-अपने जनपदों की परिस्थितियों के अनुसार अपने विवेक से समय पर आवश्यक प्रभावी कार्यवाही करायेंगे तथा इस नववर्ष की पूर्व संध्या पर आयोजित किये जाने वाले कार्यक्रमों को शान्तिपूर्ण, एवं सौहार्द के वातावरण में सम्पन्न करायेंगे। कानून व्यवस्था,साम्प्रदायिक व जातिगत सद्भाव बनाये रखेंगे तथा किसी प्रकार की कोई अप्रिय घटना घटित न होने देने में सफल होंगें।

LEAVE A REPLY