मानसून की देरी से किसान परेशान, सूखने लगी हैं फसले

0
164

ऋषिकेश्र ऋषिकेश,श्यामपुर खदरी में हाथियों द्वारा धान पौध को रौंदने के भय से लोगोँ द्वारा मानसून पूर्व लगायी गयी धान की रोपण की गयी फसल वर्षा जल की कमी के कारण सूखने लगी है।ग्रामीण किसान मगनी राम ने बताया कि एक ओर लोग जँगली हाथियों द्वारा धान की पौध रौंदने का क्रम जारी है जिसके कारण लोग मानसून की प्रतीक्षा किये बिना ही रोपाई कर रहे हैं दूसरी ओर नहर का जलस्तर कम होने के कारण सभी खेतों में जलापूर्ति नही हो पारही है जिससे कि धान की रोपित फसल सूखने लगी है और सरकार का यह हाल है कि किसानों के लिए सिर्फ वादे ही वादे हैं टूटी हुयी नहरों का मरम्मत का कार्य भी लंबित पड़ा है और फसल सूखने के कगार पर है यदि समय रहते नालियों की मरम्मत कर दी जाती तो किसानों को परेशानियों से दो चार नही होना पड़ता।
सामजिक कार्यकर्ता विनोद जुगलान ने किसानो की समस्याओं के समाधान हेतु ग्रामीण क्षेत्र में समस्या निराकरण कैम्प लगाने और त्वरित निराकरण की माँग की है।उन्होंने कहा कि फसल सूखने और हाथियों द्वारा लगातार नुकसान के बाद यदि सरकार कोई फैसला लेती है तो उसका कोई लाभ नही होगा।फसल सूखने के बाद जल का कोई फायदा नही होगा।

LEAVE A REPLY