रामलला के लिए फांसी पर लटकने को तैयार; पर झूठ नहीं बोल सकता: वेदांती

0
208

अयोध्या.पूर्व बीजेपी सांसद और राम जन्मभूमि न्यास के सीनियर मेंबर डॉ. रामविलास दास वेदांती ने कहा कि मैं रामलला के लिए फांसी पर लटकने को तैयार हूं। उन्होंने शनिवार को कहा, “रामलला के लिए जेल जाना पड़े या फिर फांसी पर लटकना हो, हम तैयार हैं। लेकिन, झूठ बोलने को तैयार नहीं।” बता दें कि सीबीआई की पिटीशन पर सुप्रीम कोर्ट ने लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी समेत बीजेपी के 13 नेताओं पर साजिश का केस चलाने का फैसला सुनाया था। कोर्ट ने दो अलग-अलग मामलों को एक करने और रायबरेली में चल रहे मामले की सुनवाई भी लखनऊ में किए जाने की बात कही थी।

शुक्रवार को फैजाबाद में वेदांती ने कहा था, “मेरे कहने पर ही कारसेवकों ने बाबरी ढांचा गिराया। महंत अवैद्यनाथ, अशोक सिंघल भी इसमें शामिल थे। अयोध्या में मौजूद कारसेवकों ने मेरे और अशोक सिंघल के उकसाने पर विवादित ढांचे को गिराया। मैंने ही कहा था कि एक धक्का और दो, बाबरी को तोड़ दो।”
– ”विवादित ढांचे से थोड़ी दूर मंच पर मौजूद आडवाणी, जोशी और दूसरे नेता कारसेवकों को समझाने की कोश‍िश कर रहे थे कि कारसेवा हो गई है और आप ढांचे से उतर आइए। इस मामले में आडवाणी बिल्कुल दोषी नहीं हैं, वो बेकसूर हैं। अगर कोर्ट फांसी की सजा मुझे दे तो मैं फांसी पर लटकने को तैयार हूं। मैं रामलला से ये प्रार्थना जरूर करूंगा कि भारत सरकार और राज्य सरकार को ऐसी दिशा मिले कि जल्द से जल्द मंदिर का निर्माण हो।”

LEAVE A REPLY