हमारे पास पीएम मोदी के भ्रष्टाचार की जानकारी:राहुल

0
230
rahul-gandhi

नयी दिल्ली : नोटबंदी पर बोलने देने पर भूकंप आने का दावा करने के बाद कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने आज सनसनीखेज तरीके से आरोप लगाया कि उनके पास प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बारे में व्यक्तिगत भ्रष्टाचार की जानकारी है जिसे वे सदन में रखना चाहते हैं लेकिन उन्हें सदन में बोलने नहीं दिया जा रहा है. हालांकि भाजपा ने कांग्रेस उपाध्यक्ष के आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए उन्हें गलत और बबुनियाद बताया और देश से माफी मांगने को कहा. आप प्रमुख और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राहुल गांधी को चुनौती दी कि अगर उनके पास कोई दस्तावेज हैं तो वे प्रधानमंत्री को ‘बेनकाब’ करें.

नोटबंदी को लेकर मोदी पर राहुल द्वारा लगाये गए भ्रष्टाचार के आरोप पर पलटवार करते हुए संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने कहा कि कांग्रेस उपाध्यक्ष के आरोप पूरी तरह से गलत और बेबुनियाद हैं और उन्हें देश से माफी मांगनी चाहिए. अनंत कुमार ने संवाददाताओं से कहा कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के आरोप पूरी तरह से गलत और बेबुनियाद तथा दुर्भाग्यपूर्ण हैं.

हमारे पास नरेन्द्र मोदीजी के बारे में व्यक्तिगत सूचना है

उन्होंने कहा, ‘‘उन्होंने (राहुल गांधी) ये आरोप हताशा में लगाये हैं और उन्हें इसके लिए देश से माफी मांगनी चाहिए. ‘ अन्य 15 विपक्षी दलों के नेताओं के साथ राहुल गांधी ने संसद भवन परिसर में संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘हमारे पास नरेन्द्र मोदीजी के बारे में व्यक्तिगत सूचना है जिसे मैं लोकसभा में रखना चाहता हूं. लेकिन मुभे बोलने नहीं दिया जा रहा है. ‘ राहुल गांधी के साथ संवाददाता सम्मेलन में तृणमूल कांग्रेस के संदीप बंदोपाध्याय, कल्याण बनर्जी, माकपा के पी करुणाकरण, राकांपा के तारीक अनवर, आरएसपी के एन के प्रेमचंद्रन, एआईयूडीएफ के बदरुद्दीन अजमल आदि मौजूद थे.

जब उनसे बार बार पूछा गया कि वह जानकारी क्या है तब कांग्रेस उपाध्यक्ष ने दावा किया, ‘‘हमारे पास प्रधानमंत्री के बारे में कथित व्यक्तिगत भ्रष्टाचार की जानकारी है जिसे हम संसद में रखना चाहते हैं. लेकिन मुभे लोकसभा में बोलने नहीं दिया जा रहा है.’ उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री इस बात से घबराये हुए हैं कि अगर मुभे बोलने दिया गया तो मेरे पास ऐसी सूचनाएं हैं कि उनका गुब्बारा फट जायेगा. राहुल ने कहा कि प्रधानमंत्री का नोटबंदी का फैसला गरीबों पर आघात है. इसलिए प्रधानमंत्री की यह जवाबदेही है कि वे नोटबंदी के मुद्दे पर स्पष्टीकरण दें. वे देश के समक्ष स्पष्टीकरण दें. वे सदन में बोलें.

इतिहास में पहली बार सत्ता पक्ष के लोग चर्चा रोक रहे हैं

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री काफी घबराये हुए हैं और मुभे यह जानकारी है कि सदन में मुभे नहीं बोलने दिया जायेगा. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री पॉप कंसर्ट में बोल रहे हैं, जनसभा में बोल रहे हैं लेकिन सदन में नहीं बोल रहे हैं. इतिहास में पहली बार सत्ता पक्ष के लोग चर्चा रोक रहे हैं. आमतौर पर विपक्ष ऐसा करता रहा है और सत्ता पक्ष कामकाज चलाने का प्रयास करता है. प्रधानमंत्री बहाने बनाना छोड़कर सदन में आए और चर्चा हो.

LEAVE A REPLY