ड्राइवर को सम्मान देने के लिए कलेक्टर ने खुद चलाई कार

0
158
collector_srikant
ड्राइवर को सम्मान देने के लिए कलेक्टर ने खुद चलाई कार
सेवाकाल के अंतिम दिन ड्राइवर दिगंबर को सम्मान देने के लिए कलेक्टर श्रीकांत ने कार को फूलों से सजवाया और इसके बाद बंगले पर उनका इंतजार करते मिले।

नागपुर, । दिल को छू देने वाले वाकये में महाराष्ट्र के अकोला जिले के कलेक्टर जी श्रीकांत अपने ड्राइवर को अपनी सरकारी कार की पिछली सीट पर बैठाकर कार्यालय ले गए। इस दौरान कलेक्टर श्रीकांत ने कार खुद ड्राइव की।

ड्राइवर दिगंबर ठाक 33 साल की सेवा के बाद गुरुवार को रिटायर हुए। सेवाकाल के अंतिम दिन ड्राइवर दिगंबर को सम्मान देने के लिए कलेक्टर श्रीकांत ने कार को फूलों से सजवाया और इसके बाद बंगले पर उनका इंतजार करते मिले। झिझक रहे दिगंबर को कलेक्टर श्रीकांत ने पिछली सीट पर बैठाया और खुद ड्राइवर की सीट पर बैठकर कलेक्ट्रेट पहुंचे।

कलेक्ट्रेट में दिगंबर के लिए भी कुर्सी अपने पास लगवाई, ड्राइवर की पत्नी को भी बुलवाकर उन्हें ससम्मान पास बैठाया। इस दौरान कलेक्ट्रेट कर्मियों को बुलाकर फोटो भी खिंचवाईं और दिगंबर व उनकी पत्नी को उपहार दिए। दिगंबर और उनकी पत्नी इस दिल छू देने वाले व्यवहार और सम्मान से अभिभूत हैं। पूरे जिले में कलेक्टर के व्यवहार की चर्चा है। श्रीकांत सन 2000 बैच के आइएएस अधिकारी हैं और वह मूल रूप से कर्नाटक के रहने वाले हैं। दिगंबर ने उनके साथ डेढ़ साल काम किया।

 

LEAVE A REPLY